जिन्न ,( बोतल से आजाद होने के बाद ..) 🌿
” क्या हुक्म है मेरे आका ”
..
मालिक :- “कुछ ऐसा करो
के सारी बीवियां अपने पति की
सब बातें मानने लगे “🌿
जिन्न :- (वापस बोतल में जाकर ).
” चाचा , ढक्कन जरा टाईट लगाना ..