Tags

, , , ,

गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ,गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ
जाने कितनी सभ्यताओं को समेटा हुआ सागर सिंधु हूँ

हां मैं वही हूँ जिसने अमेरिका को भी अपने भाषण से चकित किया
हां मैं वही हूँ जिसनसे मात्रभूमी के लिए अपना शीश अर्पित किया

हां मैं अपने वचनो का मरते दम तक साथ निभाता हूँ
रोटियाँ भले ही घास खाई हो मगर मस्तक कभी ना झुकाता हूँ

मैने ही तो दुनिया को अहिंसा का रास्ता दिखलाया.
पर मौका आने पर १६-१६ बार ग़ज़नवी को मार भगाया.

जो शरण मैं आया उनके लिए कृपा का एक बिंदु हूँ.
गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ,गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ

जाग हिंदू तू क्यू अपनी बादशाहत को विसराया है.
लहू तेरे मैं वीर हस्तियों का ,जाग अब अवसर आया है

आने दो मोदी जी को , विदेशियों की एक ना चल पाएगी.
घर घर मैं होगी उन्नति , भारत सोने की चिड़िया कहलाएगी.

गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ,गर्व से कहो मैं हिंदू हूँ

जय हिंद!!