आसान नही है हर एक के लिये
कि वो कुर्बान हो जाये
मर मिटे हिंदुस्तान के लिये
और “हिंदुस्तान” हो जाये !

–विवेक