सास – बहू की चुटकी !
वैसे तो सास रोया करती हैं पर एक बहु को रोता देख
कर सास का मन पानी पानी हो गया ?
सास ने पुचकारते हुए पूछा-क्यों बहू,Vvv
इतना क्यों रो क्यों रही हो ? क्या बाढ़
लाएगी ???
बहू ( आंसू पोंछते हुए ) – माँ जी , क्या मैं डायन
जैसी दिखती हूं ?
सास-नहीं, बिल्कुल नहीं।
बहू-क्या, मेरी आंखें उस
मेंढकी की जैसी हैं ?
जो टर्र टर्र कर रही है ? ?
सास- नहीं तो। बिलकुल
भी नहीं !
बहू- क्या, मेरी नाक उसी पकौड़े
की तरह है जो आज हमने खाए थे ???
सास- नहीं नहीं , बिलकुल
नहीं ! वे तो बहुत ठेढ़े मेढ़े थे !!
बहू-क्या, मैं भैंस जैसी दिखती हूँ,
जो बाहर लोट लगा रही है ???
सास- नहीं बहू नहीं, जरूर जलने
वालों ने हमारी प्यारी बहू से जलन
निकाली होगी ? तू बता किस
कलमुंही ने तेरा दिल दुखाया है ???
.
बहू- फिर पड़ोसन क्यों कह
रही थी ! कि तू तो बिलकुल
अपनी सास
जैसी दिखती है