साइकोलॉजी का प्रैक्टिकल हो रहा था…

प्रोफेसर ने 1 चूहे  के लिए एक तरफ केक  और दूसरी तरफ चुहिया  रख दी…

चूहा  फ़ौरन केक  कि तरफ लपका

दूसरी बार केक  को बदल के रोटी  रखी…

चूहा रोटी कि तरफ लपका

कई बार फ़ूड-आइटम्स बदले मगर चूहा हर बार फ़ूड कि तरफ भागा.

प्रोफेसर: so students, its proved कि hunger is bigger need than girls…..

इतने में लास्ट बेंच से रणछोर दास छांचड़ बोला: सर, 1 बार चुहिया बदल के भी देख लो, हो सकता है वो उसकी “बीवी” हो…😆
                                 रणछोर दास छांचड़