पत्नी (पति के बर्थडे पर) – “क्या गिफ्ट दूँ ?”

.
.

पति – “गिफ्ट रहने दे । बस कभी-कभी प्यार से देख लिया कर, इज्ज़त किया कर, और तमीज से बात कर लिया कर…”
.
.
.
.
.
पत्नी (एक मिनट सोचकर)– “नहीं… मैं तो गिफ्ट ही दूँगी