Tags

आज ही “शाकाहारी” बनो

इंसानो के बच्चे मार दिए गये तो बहुत रोना आ रहा है सबको, मगर उन बच्चो का क्या जो बकरी के थे जो मुर्गी के थे जो किसी गाय के थे, जो किसी मछली के थे , जो आपके एक टाइम के भोजन क लिए रोज करोड़ो की संख्या मे मारे जा रहे हैं, क्या उनके लिए आपके पास कोई करुणा नही ?? कोई दया नही ,क्या पशु को दर्द नही होता?

अरे तुम भी उसी प्रकृति के बेटे हो जो उन मुर्गी,बकरी और गाय की भी माँ है,

शांति चाहते हो, खुद को बचाना चाहते हो तो
(I would say as per intelligence level,but human is not super creature) बड़े बेटे होने के नाते , सब पर करुणा रखना सीखो, आज ही “शाकाहारी” बनो

किसी पेड़ के फल,सब्जी तोड़ लेने से वो मर् नही जाता ,बल्कि कुछ समय तक उसे ना तोड़ा जाए तो खुद ही अलग हो जाता है.

-Vivek Jain