Ultimate bundelkhandi

ससुर  – काये आप दारु पियत हो कबहूँ बताई नईयाँ
दामाद – तुम्हायी मोडी खून पियत है
तुमने बताई कबहुँ !
👊😬👊